Daily Current General Question In Hindi 19/03/2019

Que. 1.   भारत का पहला लोकपाल किसे मनोनीत किया गया है?

उत्तर – पिनाकी चन्द्र घोष

Expalain :–      हाल ही में लोकपाल खोज समिति ने अध्यक्ष तथा सदस्य के पद के लिए आवेदन मांगे थे। हाल ही में इस समिति ने सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व न्यायधीश पिनाकी चन्द्र घोष के नाम पर सहमति प्रकट की है। वे भारत के पहले लोकपाल होंगे।

लोकपाल का अध्यक्ष बनने के लिए उम्मीदवार सर्वोच्च न्यायालय का मुख्य न्यायधीश, सर्वोच्च न्यायालय का न्यायधीश अथवा भ्रष्टाचार विरोधी नीति, लोक प्रशासन, वित्त, विधि अथवा प्रबंधन के क्षेत्र से कम से कम 25 वर्षों से जुड़ा हुआ व्यक्ति होना चाहिए। लोकपाल का न्यायिक सदस्य बनने के लिए उम्मीदवार सर्वोच्च न्यायालय का न्यायधीश अथवा उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायधीश होना चाहिए। लोक पाल के अन्य सदस्य कम से कम 25 वर्षों से भ्रष्टाचार विरोधी नीति, लोक प्रशासन, वित्त, विधि अथवा प्रबंधन के क्षेत्र से जुड़े हुए होने चाहिए।

लोकपाल खोज समिति के सदस्य

जस्टिस सखा राम सिंह यादव, पूर्व SBI चेयरपर्सन अरुंधती भट्टाचार्य, सेवानिवृत्त आईएएस अफसर रंजित कुमार, पूर्व गुजरात पुलिस प्रमुख ललित के. पंवर, इलाहबाद उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश शब्बीरहुसैन एस. खांडवावाला, प्रसार भारती के चेयरपर्सन ए. सूर्य प्रकाश तथा इसरो के पूर्व प्रमुख ए. एस.किरण कुमार।

लोकपाल का चयन

खोज समिति द्वारा प्रस्तावित नामों की छंटनी प्रधानमंत्री मंत्री की अध्यक्षता वाली चयन समिति द्वारा किया जायेगा। इस चयन समिति में लोकसभा स्पीकर, लोकसभा में विपक्ष के नेता, भारत के सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायधीश अथवा प्रमुख न्यायधीश द्वारा मनोनीत अन्य कार्यशील न्यायधीश तथा राष्ट्रपति द्वारा मनोनीत प्रतिष्ठित न्यायविद शामिल हैं। राष्ट्रपति ने भारत के पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी को प्रतिष्ठित न्यायविद के रूप में मनोनीत किया है।

Que. 02   इसरो के किस पूर्व वैज्ञानिक को पदम् भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया?

उत्तर – नम्बी नारायण

Expalain:–      इसरो के पूर्व वैज्ञानिक नम्बी नारायण को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा हाल ही में पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया। पद्म भूषण भारत सरकार द्वारा प्रदान किया जाने वाला तीसरा सबसे बड़ा असैनिक सम्मान है।  नम्बी नारायण को विकास इंजन के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए जाना जाता है। विकास इंजन का उपयोग शुरूआती में PSLV (पोलर सैटेलाइट लांच व्हीकल) के लिए किया गया था। इस इंजन का उपयोग इसरो के चंद्रयान तथा मंगलयान मिशन के लिए भी किया जा चुका है। नम्बी नारायण इसरो के क्रायोजेनिक प्रोजेक्ट में कार्य कर रहे थे, तब 1994 में उन्हें जासूसी के झूठे आरोप में फसाया गया था। उन पर राकेट तथा सैटेलाइट लांच के गोपनीय डाटा को बेचने का आरोप लगाया गया था। उन्हें दिसम्बर, 1994 में गिरफ्तार किया गया तथा उन पर जासूसी का आरोप लगाया गया था। सर्वोच्च न्यायालय ने उन्हें 1998 में निर्दोष घोषित करते हुए सभी दोषी से मुक्त किया। 2018 में उनके लिए क्षतिपूर्ती की घोषणा की गयी थी।

Que.03   हाल ही में सुर्ख़ियों में रहा सोयुज़ स्पेसक्राफ्ट किस देश से सम्बंधित है?

उत्तर – रूस

Expalain :–    रूसी सोयुज़ स्पेसक्राफ्ट ISS पर सफलतापूर्वक पहुंच गया है, इस स्पेसक्राफ्ट में नासा के अन्तरिक्षयात्री निक हेग, क्रिस्टीना कोच तथा रूसी अन्तरिक्ष यात्री अलेक्सी ओव्चिनिन अंतर्राष्ट्रीय अन्तरिक्ष स्टेशन में सफलतापूर्वक पहुँच गये हैं।

अंतर्राष्ट्रीय अन्तरिक्ष स्टेशन (ISS)

अंतर्राष्ट्रीय अन्तरिक्ष स्टेशन (ISS) पृथ्वी की निम्न कक्षा में एक आवासीय कृत्रिम उपग्रह है। यह पृथ्वी से 330 से 435 किलोमीटर की ऊंचाई पर है। यह 92 मिनट में पृथ्वी की एक परिक्रमा पूरी करता है। यह एक दिन में 15.5 बार पृथ्वी की परिक्रमा करता है। ISS कार्यक्रम पांच अन्तरिक्ष एजेंसियों नासा (अमेरिका), रोसकॉसमॉस (रूस), जाक्सा (जापान), ESA (यूरोप) तथा CSA (कनाडा) का संयुक्त कार्यक्रम है।

सोयुज़ स्पेसक्राफ्ट

सोयुज़ एक रूसी स्पेसक्राफ्ट है, इसकी सहायता से अंतर्राष्ट्रीय स्पेस स्टेशन को अंतरिक्षयात्रियों तथा आवश्यक वस्तुओं का परिवहन किया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय स्पेस स्टेशन में एक सोयुज़ स्पेसक्राफ्ट हमेशा डॉक होता है, इसका उपयोग आपातकालीन स्थिति में अंतरिक्षयात्रियों को पृथ्वी पर वापस लाने के लिए किया जा सकता है।

इस स्पेस शटल को 2011 में सेवानिवृत्त किया गया था। इसके बाद सोयुज़ का उपयोग क्रू मेम्बेर्स के परिवहन के लिए किया जाता है।

Que.04      हाल ही में किस अंतर्राष्ट्रीय संगठन ने सिंगल-यूज़ प्लास्टिक तथा सतत नाइट्रोजन प्रबंधन पर प्रस्ताव को मंज़ूर किया?

उत्तर – संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण सभा

Expalain:—-        संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण सभा के चौथे सत्र का आयोजन 11 से 15 मार्च, 2019 को केन्या की  राजधानी नैरोबी में किया गया। इस सत्र के संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण सभा ने सिंगल-यूज़ प्लास्टिक तथा सतत नाइट्रोजन प्रबंधन पर दो प्रस्तावों को मंज़ूर किया। 2019 की थीम “पर्यावरणीय चुनौतियों तथा सतत उत्पादन व उपभोग के लिए नवोन्मेषी समाधान” थी।

Que 05.     1951 के जन प्रतिनिधित्व अधिनियम के किस सेक्शन के तहत राजनीतिक दलों का पंजीकरण किया जाता है?

उत्तर –सेक्शन 29 ए

Expalain:–     1951 के जन प्रतिनिधित्व अधिनियम के सेक्शन 29 ए के तहत राजनीतिक दलों का पंजीकरण किया जाता है। इस सेक्शन के तहत दल के पंजीकरण के लिए राजनीतिक दल को गठन के 30 तीन के भीतर आवेदन निर्वाचन आयोग को सौंपना पड़ता है। राजनीतिक दल का गठन चुनाव आयोग द्वारा अनुच्छेद 324 तथा जन प्रतिनिधित्व अधिनियम के सेक्शन 29 ए के तहत जारी दिशानिर्देशों के अनुसार किया जाता है। आवेदक को दो राष्ट्रीय समाचार पत्रों तथा दो स्थानीय दैनिक समाचार पत्रों पर प्रस्तावित नाम का प्रकाशन करना पड़ता है।

Que. 06    हाल ही में चिन्मॉय रॉय का निधन हुआ, वे किस क्षेत्रीय सिनेमा के अभिनेता थे?

उत्तर – बंगाली सिनेमा

Expalain :–    चिन्मॉय रॉय एक बंगाली अभिनेता थे, हाल ही में उनका निधन कलकत्ता में 79 वर्ष की आयु में हुआ। उनका जन्म 1940 में वर्तमान बांग्लादेश के कुमिला जिले में हुआ था। रॉय ने 60 के दशक में बंगाली सिनेमा में अपना अभिनय करियर शुरू किया था। उनकी कुछ एक प्रमुख फ़िल्में इस प्रकार हैं : बसंत बिलाप, धोन्नी मेये, गूपी गेने बाघा बेने तथा चारमूर्ति इत्यादि।

Que. 07   भारतीय रिज़र्व बैंक ने किन बैंकों को D-SIB सूची में शामिल किया है?

उत्तर  – भारतीय स्टेट बैंक, आईसीआईसीआई बैंक तथा HDFC बैंक

Expalain:-– भारतीय स्टेट बैंक, आईसीआईसीआई बैंक तथा HDFC बैंक को 1 अप्रैल, 2019 तक अतिरिक्त पूँजी आवश्यकता के नियमों का अनुपालन करना होगा। D-SIB (Domestic Systematically Important Banks) की सूची में शामिल बैंकों को अन्य बैंकों के मुकाबले अधिक पूँजी का स्तर बरकरार रखना पड़ता है। इसका अर्थ यह है कि इन बैंकों के असफल होने की उम्मीद काफी कम होती है। इन बैंकों में से किसी भी बैंक की विफलता भारतीय अर्थव्यवस्था पर बड़े स्तर पर प्रभावित कर सकती है।

Que.08    केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का मुख्यालय कहाँ पर स्थित है?

उत्तर – नईं दिल्ली

Expalain :—  हाल ही में राष्ट्रीय हरित ट्रिब्यूनल ने केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को ध्वनी प्रदूषण मानचित्र तथा ध्वनी प्रदूषण के समाधान के लिए एक्शन प्लान बनाने का निर्देश दिया है। राष्ट्रीय हरित ट्रिब्यूनल के चेयरपर्सन जस्टिस आदर्श कुमार गोएल की अध्यक्षता वाली पीठ ने केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को ध्वनी प्रदूषण हॉटस्पॉट को ढूंढने तथा विशिष्ट हॉटस्पॉट के अनुसार शहरों का वर्गीकरण करने तथा ध्वनी प्रदूषण की समस्या का समाधान करने के लिए तीन महीने का समय दिया है। राष्ट्रीय हरित ट्रिब्यूनल ने कहा है कि ध्वनी प्रदूषण को नियंत्रित न करने से नागरिकों मुख्य रूप से नवजात तथा वरिष्ठ नागरिकों  के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इससे मानसिक तनाव में भी वृद्धि होती है। इसके अतिरिक्त ग्रीन पैनल ने ध्वनी प्रदूषण को मॉनिटर करने के लिए उपकरण निर्मित करने तथा ध्वनी प्रदूषण निश्चित सीमा पार करने पर प्रशासन को सूचित करने का सुझाव भी दिया है।

Que.  9.    हाल ही में मनोहर पर्रीकर का निधन हुआ, वे किस राजनीतिक दल से सम्बंधित थे?

उत्तर –  भारतीय जनता पार्टी

Expalain :— 17 मार्च को गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रीकर का निधन हुआ, वे लम्बे समय से बीमार चल रहे थे। उनका निधन गोवा के पंजिम में हुआ। वे अग्नाशय के कैंसर से पीड़ित थे।

मनोहर पर्रीकर

  • मनोहर पर्रीकर का जन्म 13 दिसम्बर, 1955 को गोवा के मापुसा में हुआ था। वे भारतीय जनता पार्टी के सबसे अग्रणी नेताओं में गिने जाते थे।
  • मनोहर पर्रीकर ने 1978 में IIT बॉम्बे से मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री प्राप्त की थी।
  • मनोहर पर्रीकर युवावस्था में ही राष्ट्रीय स्वयंसेवा संघ से जुड़ गये थे।
  • उन्हें 1994 में गोवा विधान सभा का सदस्य चुना गया थे। जून से नवम्बर, 1999 के दौरान वे विपक्ष के नेता रहे।
  • वे 24 अक्टूबर, 2000 को पहली बार गोवा के मुख्यमंत्री बने।
  • मनोहर पर्रीकर 2000 से 2005 तथा 2012 से 2014 तक गोवा के मुख्यमंत्री रहे।
  • 2013 में मनोहर पर्रीकर ने प्रधानमंत्री पद के लिए नरेन्द्र मोदी के नाम का प्रस्ताव रखा था।
  • वे 9 नवम्बर, 2014 से 13 मार्च, 2017 के बीच देश के रक्षामंत्री रहे।

Que.10    किस भारतीय मनोवैज्ञानिक को 2019 हंस किलियन अवार्ड प्रदान किया जायेगा?

उत्तर –  आशीष नंदी

Expalain :– भारतीय मनोवैज्ञानिक आशीष नंदी को 2019 हंस किलियन अवार्ड प्रदान किया जायेगा। उन्हें यह पुरस्कार 9 मई को प्रदान किया जायेगा। वे इस पुरस्कार को प्राप्त करने वाले पहले एशियाई मनोवैज्ञानिक होंगे। उन्हें यह पुरस्कार जर्मनी के रूहर विश्वविद्यालय में प्रदान किया जायेगा। हंस किलियन अवार्ड मनोविज्ञान व मनो-विश्लेषण के क्षेत्र में बेहतरीन कार्य करने वाले लोगों को प्रदान किया जाता है। यह पुरस्कार जर्मनी की कोहलर फाउंडेशन  द्वारा प्रदान किया जाता है। इस पुरस्कार का नाम सामाजिक मनोवैज्ञानिक व मनोविश्लेषक हंस किलियन के नाम पर रखा गया है। इस पुरस्कार को प्रत्येक दो वर्ष बाद प्रदान किया जाता है। इस पुरस्कार को सर्वप्रथम वर्ष 2011 में प्रदान किया गया था। इस पुरस्कार के विजेता को 80,000 यूरो इनामस्वरुप प्रदान किये जाते हैं।

Leave a Comment