“Daily Indian Cluture G.K. 20/ June /2019”

“Daily Indian Cluture G.K. 20/ June /2019”

Download Click Here 

Que. 01  वैदिक काल में किस यज्ञ में यज्ञ सामग्री में सुरा का प्रयोग किया जाता था?

  1. अग्निस्तोम
  2. राजसूय
  3. सौत्रामणी
  4. वाजपेय

 

Answer :- 3.   सौत्रामणी

 

Notes :–  सौत्रामणी यज्ञ पहले असुरों द्वारा किया जाता था जो बाद में देवताओं द्वारा किया जाने लगा। इसमें प्रमुख यज्ञ सामग्री सुरा थी।

********************************************************************

Que. 02   ऋग्वेद के अनुसार दशराज युद्ध किस नदी पर हुआ था?

  1. गंगा
  2. सरस्वती
  3. वितस्ता
  4. परुषणी

 

Answer :– 4.  परुषणी

           

Notes :–  ऋग्वेद के अनुसार दशराज युद्ध भरतजन के राजा सुदास और दस राजाओं  पुरा, यदु, तुर्वासा, अनु, द्रुहू, अलीना, पक्था, भालाना, शिव और विष्णिनके समूह के बीच हुआ था। इस युद्ध में सुदास की विजय हुई। यह परुषणी नदी के किनारे हुआ।

********************************************************************

Que. 03   जहाँगीर ने फारस के राजा शाह अब्बास प्रथम की पेंटिंग के लिए किसे फारस भेजा था?

  1. बिशनदास
  2. बसावन
  3. दशरथ
  4. मनोहर

 

Answer :– 1.  बिशनदास

 

Notes :–  जहाँगीर के काल को चित्रकला का स्वर्णकाल कहा जाता है। बिशनदास उसके समय का चित्रकार था जिसे जहाँगीर ने 1613 में फारस के राजा शाह अब्बास प्रथम की पेंटिंग के लिए फारस भेजा था। वहां वह इतना सफल हुआ कि 1620 तक रहा और उपहार में हाथी लेकर लौटा।

********************************************************************

Que. 04   सही कालक्रमबध्द क्रम में निम्नलिखित चिस्ती संतों को व्यवस्थित करें:

  1. शेख निजामुद्दीन औलिया
  2. सैयद मोहम्मद जीसुदराज
  3. बाबा फरीद गंज शकर
  4. शेख नासीरुद्दीन चिरागे दिल्ली

इनमें कौन सा विकल्प सही है?

 

 

Answer :–   3, 1, 4, 2

********************************************************************

Que. 05   वेदों का प्रमुख टीकाकार सयन किस साम्राज्य से जुड़ा हुआ था?

  1. पल्लव साम्राज्य
  2. चोल साम्राज्य
  3. विजयनगर साम्राज्य
  4. इनमें से कोई नहीं

 

Answer :– 3.   विजयनगर साम्राज्य

 

Notes :–  वेदों का टीकाकार सयन विजयनगर साम्राज्य से था। उसके कार्यों का संपादन मैक्समूलर ने किया। वह बुक्का प्रथम और हरिहर द्वितीय के काल में था।

********************************************************************

 

Que. 06  निम्नलिखित में कौन सा मंदिर चोल साम्राज्य से संबंधित है?

  1. बृहदेश्वर
  2. कोरंगनाथ
  3. कैलाशनाथ
  4. ऐरवातेश्वर

 

Answer :— 3.  कैलाशनाथ

 

Notes :–  बृहदेश्वर मंदिर तंजौर में है जो चोल राजा राजाराज प्रथम ने बनवाया।

कोरंगनाथ मंदिर श्रीनिवासनल्लुर में है जो परांतक चोल ने बनवाया।

कैलाशनाथ मंदिर तमिलनाडु के कांचीपुरम में है जो पल्लव राजा नरसिंहवर्मन ने बनवाया।

ऐरावतेश्वर मंदिर दरसुराम में है जो राजाराज चोल द्वितीय ने बनवाया

********************************************************************

Que. 07   विष्णु के अवतारों में से एक कला में महासागर से पृथ्वी को लाने के रूप में दर्शाया गया है। वह कौन सा अवतार है?

  1. मत्स्य
  2. कूर्म
  3. वराह
  4. परशुराम

 

Answer :– 3.  वराह

 

Notes :–  वराह अवतार विष्णु भगवान के दशावतारों में तीसरा अवतार है। उन्होंने पृथ्वी की हिरण्याक्ष नामक राक्षस से रक्षा की।

********************************************************************

Que. 08  निम्नलिखित में महायान बौद्ध पंथ के अनुसार, कौन से भविष्य के बुध्द हैं?

  1. क्रकुचन्द
  2. अमिताभ
  3. मैत्रेय
  4. कनक मुनि

 

Answer :– 3.   मैत्रेय

 

Notes :-  महायान बौद्ध पंथ के अनुसार मैत्रेय भविष्य के बुध्द हैं। जब विश्व के लोग धर्म को भूल चुके होंगे तो मैत्रेय बुध्द लोगों को धर्म की शिक्षा देंगे।

********************************************************************

Que. 09   संथारा प्रथा किस धर्म से संबंधित है?

  1. हिन्दू
  2. बौद्ध
  3. जैन
  4. सिख

 

Answer :– 3.  जैन

 

Notes :–  संथारा: उपवास से स्वैच्छिक मौत की जैन धार्मिक अनुष्ठान है

********************************************************************

Que. 10 निम्नलिखित में किस राजा के निधन पर कवि नेआद्या धारा निराधारा, निरालम्बा सरस्वतीइस प्रकार की कविता से शोक प्रकट किया?

  1. नागभट्ट प्रथम
  2. मिहिरभोज
  3. अशोक
  4. भोज परमार

 

Answer :– 4.  भोज परमार

 

Notes :–  धार के राजा भोज परमार एक प्रसिद्ध राजा थे। वो एक महान विद्वान थे। उन्हें कविराज कहा जाता था। उनके निधन पर कवि ने लिखा था:- अद्य धारा निराधारा निरालंबा सरस्वती।

पण्डिताः खण्डिताः सर्वे भोजराजे दिवं गते ॥

(आज भोजराज के दिवंगत हो जाने से धारा नगरी निराधार हो गयी है सरस्वती बिना आलम्ब की हो गयी हैं और सभी पंडित खंडित हैं।

********************************************************************

Page no 20 kal- 01   22 may

 

Leave a Comment